पृष्ठ

रविवार, 14 मार्च 2010

विज्ञानं को सलाम

छोटी सी उम्र में उसने ऐसे ऐसे अविष्कार किये है जिसे देख कोई भी दांतों तले ऊँगली दबा ले....
प्रस्तुत है गुलाम नबी की रिपोर्ट.....

2 टिप्‍पणियां:

  1. aap mere blog per aaye shukriya.apni blog soochi me mere blog ko bhi shamil karen....

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह भई नबी,
    दो ई दिना मेँ कांच आळे मंझै सूं ऊंचा-ऊंचा ढेरिया लड़ावण लाग गियो! म्हारो सूत्तो तो कटग्यो समझो! बढ़िया है!
    -ओम पुरोहित'कागद' omkagad.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं